आवारा Awara – Dabangg 3 - सलमान अली, मुस्कान Lyrics in Hindi


आवारा Awara – Dabangg 3 - सलमान अली, मुस्कान Lyrics in Hindi


Singer सलमान अली, मुस्कान
Music साजिद-वाजिद
Song Writer समीर अनजान, साजिद

आवारा Awara – Dabangg 3 - सलमान अली, मुस्कान Lyrics in Hindi


पपहला इश्क़ हुआ है
पहला तजुर्बा पहली दफा है
हो तू जो नही तो कुछ भी नही है
साँसों के चलने की तू ही वजह है
मांगे फ़क़ीर दुआ-ऐ-अल्लाह
यार दी सूरत मशा अल्लाह
रीत न जानु, रिवाज न मानु
में ते ठहरा सादा बंदा

मांगे फ़क़ीर दुआ-ऐ-अल्लाह
यार दी सूरत मशा अल्लाह
रीत न जानु, रिवाज न मानु
में ते ठहरा सादा बंदा

बेचारा दिल मेरा
मेरा दिल तुझको ही ढूंढता रहता है
आवारा, आवारा, आवारा दिल मेरा
मेरा दिल तुझको ही ढूंढता रहता है

कल परसों के लिए न तो बरसों के लिए
तुझको है मांग हर जन्म के लिए
हो मेरी तो दुआएं सारी
मेरी तो वफ़ाएँ सारी
जो भी हैं वो हैं मेरे सनम के लिए

हो मैं भी सजदे में झुका कर सर
दुआ मैं माँगता हूँ तुझे
न होगी आखिरी दम तक ये चाहत कम

आवारा दिल मेरा
मेरा दिल तुझको ही ढूंढता रहता है

जब न मैं देखूं तुझे
जब न मैं सोचूं तुझे
मेरे दिन ढले ना मेरी रात हो

कोई भी ज़माना आए
कोई भी ठिकाना आए
कोई संग हो न हो तेरा साथ हो

तेरी यादों के साए में
मैं एक-एक पल बिताता हूँ
कहीं जाऊं तेरे चर्चा तेरी बात हो

आवारा दिल मेरा
मेरा दिल तुझको ही ढूंढता रहता है
आवारा, आवारा, आवारा दिल मेरा
मेरा दिल, मेरा दिल तुझको ही ढूंढता रहता है


Post a Comment

0 Comments